विश्व

  • कोरोना का कहर जारी। पूरे विश्व में अबतक 2 लाख 33 हजार से अधिक लोगों की मौत।

    टाइम्स खबर timeskhabar.com कोरोना महामारी का कहर जारी है पूरे विश्व में। इसकी वजह से अबतक लगभग 2 लाख 33 हजार लोगो की मौत हो चुकी है। सबसे ज्यादा लोगों की मौत अमेरिका में हुई। यहां मरने वालों की संख्या 63 हजार 700 से अधिक है। वहीं भारत में मृतकों की संख्या 1154 है। ये आंकड़े 30 अप्रैल तक के हैं। पूरी दुनिया में हा-हा कार मचाने वाले इस वायरस की दवा अभी तक सामने नहीं आई है। अमेरिका, ब्रिटेन, ऑस्ट्रेलिया, चीन व भारत समेत अनेक देशों में वैक्सीन बनाने की कोशिश की जा रही है लेकिन कोई खास सफलता अभी तक नहीं मिली है। कुछ वैज्ञानिकों का यह भी मानना है कि यह मान लिया जाना चाहिये कि इस तरह के वायरस का सामना सदैव करते रहना पड़ेगा। इसको लेकर चीन दुनिया भर के निशाने पर है। इस महामारी की शुरूआत चीन के वुहान शहर से शुरू हुई। चीन समेत पूरी दुनिया को अपने चपेट मे ले लिया है। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भी कहा कि इस वायरस को चीन में वुहान शहर स्थित एक लैब में पैदा किया गया है। हालांकि अमेरिका के ही खुफिया ऐजेंसी का कहना है कि इस वायरस को जानबूझ कर पैदा नहीं किया गया है। एक नजर किस देश में कोरोना से कितनी मौते हुई हैं अबतक - भारत - 1154 मृत्यु, अमेरिका - 63871 , फ्रांस - 24376, स्पेन - 24543, जर्मनी - 6623, चीन - 4633, इटली - 27945, ब्रिटेन - 26771 और रूस में 1073 लोगों की मृत्यु हुई।

    Read more ...
  • कोरोना प्रकरण : विश्व में मृतकों की संख्या 1 लाख 18 हजार से अधिक। अमेरिका में 22 हजार और भारत में 335 से अधिक मौते।

    टाइम्स खबर timeskhabar कोरोना वायरस के साइलेंट हमले ने कोहराम मचा दिया है भारत-अमेरिका समेत पूरे विश्व में। विश्व में अब तक 1 लाख 18 हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। 19 लाख से अधिक लोग संक्रमित हैं। चीन के वुहान से निकले यह वायरस अभी कितनी जिंदगियों को निगलेगा पता। अभी तक इस इलाज को कोई दवा नहीं निकला है। प्रयोगशालाओं में कोशिशें जारी है। अमेरिका जैसे शक्तिशाली देश में कोरोना की वजह से 22 हजार से अधिक लोगो की मौत हो चुकी है। इसमें भी न्यूयॉर्क जैसे शहर में 10 हजार से अधिक जानें चली गई है। भारत में भी कोरोना ने धीरे धीरे प्रभाव बढना शुरू कर दिया है। यहां 10350 से अधिक लोग संक्रमित हैं। और 339 लोगों की मौत हो चुकी है। भारत में भी सबसे अधिक प्रभावित राज्य हैं महाराष्ट्र। यहां अब तक 160 लोगों की मौत हो चुकी है। 2334 लोगो संक्रमित हैं। और 227 रिकवर। मामले की गंभीरता को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लॉकडाउन को 3 मई तक के लिये बढा दिया है। इससे पहले प्रधानमंत्री ने राज्य के मुख्यमंत्रियों से बातचीत किये थे स्थिति पर सभी ने लॉकडाउन बढान के समर्थन किया।

    Read more ...
  • अमेरिका-ईरान : ट्रंप के बयान के बाद चेतावनी के साथ शांति की संभावनाएं बढी। तीसरे विश्व युद्ध के हालात सिर्फ बने थे 1971 में भारत-पाक युद्ध के दौरान

    ईरानी सेना के जनरल कासिम सुलेमानी की हत्या और जवाब में इराक स्थित अमेरिकी ठिकानों पर ईरानी मिसाइल हमले के बाद यह कहा जाने लगा था कि क्या विश्व तीसरे युद्ध की ओर बढ रहा है? लेकिन इसकी आशंका बहुत कम थी। और ऐसा ही हुआ। ईरान और अमेरिका दोनो ही ओर से अपने सम्मान की रक्षा करते हुए शांति का पक्ष लिया। इससे युद्ध संकट के बादल छट गये हैं। लेकिन इससे पहले दोनो ही ओर से कड़े बयान जारी किये गये।

    Read more ...
  • अमेरिकी हमले में ईरानी जनरल सुलेमानी की मौत। राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा कि ईरान ने हमला किया तो परिणाम गंभीर।

    टाइम्स खबर timeskhabar.com ईरान के टॉप जनरल कासिम सुलेमानी की हत्या के बाद पूरी दुनिया एक बार फिर युद्ध के मुहाने पर खड़ी हो गई है। सुलेमानी अमेरिकी ड्रोन हमले में मारे गये। सुलेमानी की मौत से ईरान में लोग सड़कों पर उतर आये हैं। बदला लेने की बात कही जा रही है। मीडिय में थर्ड वर्ल्ड वार की बात कही जा रही है लेकिन ऐसा संभव नहीं, लेकिन हालात भी सामान्य नहीं रहेंगे। और इसका सीधा प्रभाव भारत के विदेश और आर्थिक नीति पर भी पड़ सकता है।

    Read more ...
  • पाकिस्तान : तानाशाह परवेज मुशरर्फ को फांसी की सजा।

    टाइम्स खबर timeskhabar.com पाकिस्तान के पूर्व सैन्याध्यक्ष व तानाशाह परवेज मुशरर्फ को पाकिस्तान की विशेष अदालत ने 17 दिसंबर को फांसी की सजा सुनाई है। मुशर्रफ के खिलाफ देशद्रोह का मामला है। पेशावर हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश वकार अहमद सेठ के नेतृत्व वाली तीन सदस्यी पीठ ने फांसी की सजा सुनाई है। तानाशाह मुशरर्फ ने तख्तापलट करते हुए पाकिस्तान में इमरजेंसी लगाई। अपने कार्यकाल के दौरान कई न्यायाधीशों को भी जेल में बंद कर दिया था। लोकतंत्र से बगावत कर सत्ता हासिल करने वाले मुशरर्फ ने शासन चलाने के लिये अपने की कानून बनाये थे। इस मामले में उन्हें साल 2014 में हीं दोषी ठहराया गया था लेकिन वे साल 2016 में पाकिस्तान छोड़ दुबई चले गये थे। इस बीच अदालत के फैसले का कड़ा विरोध किया है पाकिस्तान की सेना ने। पाकिस्तान की सेना ने बयान जारी किया है कि परवेज मुशरर्फ कभी भी देशद्रोही नहीं हो सकते। अदालत के फैसले से पाकिस्तान की शस्त्र सेना को काफी दुख पहुंचा है। इस बीच परवेज मुशरर्फ की पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग ने अदालत के फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती देन का निर्णय लिया है। और अदालत के फैसले को एकतरफा बताया।

    Read more ...
  • अमेरिकी कमांडो से घिरे बगदादी ने खुद को उड़ाया : राष्ट्रपति ट्रंप।

    टाइम्स खबर timeskhabar.com अमेरिकी स्पेशल कमांडो से घिरे आतंकी संगठन आईएसआईएस का हेड अबू बकर अल बगदादी खुद को बम लगाकर उड़ा लिया। सिरिया के इदलिब प्रांत के सुदूर गांव बरिशा में बगदादी के खिलाफ जारी ऑपरेशन को लाइव देख रहे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि बगदादी कुत्ते की मौत मरा। आतंक के खिलाफ अमेरिका का यह दूसरा बड़ा ऑपरेशन है। राष्ट्रपति ट्रंप ने बताया कि बगदादी रो रहा था और चिल्ला रहा था। इससे पहले जब बराक ओबामा अमेरिका के राष्ट्रपति थे तब ओसामा बिन लादेन को मार गिराया गया था पाकिस्तान में। रात में किये गये इस ऑपरेशन का नाम अब्लीटरेशन रखा गया था और बगदादी के लिये कोडनेम था जैकपॉट। बगदादी कहां छिपा है इस बारे में अमेरिका को एक महीने पहले पता चला। लगातार बगदादी पर नजर बनाने रखने वाली ऐजेंसी को तीन दिन पहले बिल्कुल सही लोकेशन का पता चला और ऑपरेशन की तैयारी शुरू हो गई। सफल ऑपरेशन के लिये रूस, इराक और तुर्की के एयरस्पेस का प्रयोग करना था क्योंकि इनके कब्जे वाले क्षेत्र का इस्तेमाल होना था। राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा कि रूस को ऑपरेशन के बारे में नहीं बताया गया फिर उन्होंने अमेरिकी जहाज को जाने दिया। अमेरिकी समयानुसार 26 अक्टूबर को शाम पांच बजे राष्ट्रपति ट्रंप वाइट हाउस के सिचुएशन-रूम पहुंचते है लाइव ऑपरेशन देखने के लिये। उनके साथ उपराष्ट्रपति माइक पेंस, रक्षा सचिव मार्क एस्पर, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार रॉबर्ट ओ ब्रायन और अमेरिकी सैन्य अधिकारी ( चेयरमैन ऑफ द जॉइंट चीफ्स ऑफ स्टाफ) जनरल मार्क मिली भी मौजूद थे।

    Read more ...
  • अमेरिका : ट्रंप पर चुनावी वित्तीय गड़बड़ी का आरोप। ट्रंप ने कहा यदि मेरे खिलाफ महाभियोग लाया गया तो अर्थव्यवस्था को गहरा नुकसान।

    दुनिया के सर्वाधिक संपन्न देश अमेरिका में भी राजनीतिक घमासान मचा हुआ है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ महाभियोग प्रस्ताव लाया जाना है। उनपर चुनावी पैसों में गडबड़ी करने का आरोप है। बीबीसी रिपोर्ट के अनुसार डोनल्ड ट्रंप के पूर्व वकील माइकन कोहेन ने अदालत में स्वीकार किया है कि उन्होंने चुनाव अभियान से जुड़े वित्तीय नियमों का उल्लंघन किया था. कोहेन ने अदालत में ये भी कहा है कि उन्हें ऐसा करने के निर्देश ट्रंप ने दिए थे। इसके बाद से अमेरिका की राजनीति में सियासी हलचल मचना तय था। ट्रंप के खिलाफ महाभियोग प्रस्ताव लाने की बात की जा रही है। इस बीच अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप नेअपने खिलाफ महाभियोग लाए जाने के कयासों पर चेतावनी भरे लहजे में कहा है कि इस तरह के किसी भी कदम से अर्थव्यवस्था को गहरा नुकसान पहुंचेगा। 'फ़ॉक्स एंड फ़्रेंड्स' को दिए एक

    Read more ...
  • पाकिस्तान : इमरान बने पाकिस्तान के नये प्रधानमंत्री।

    क्रिकेटर से राजनीतिज्ञ बने इमरान खान ने आज पाकिस्तान के नये प्रधानमंत्री के रूप में पद और गोपनीयता की शपथ ली। वे पाकिस्तानके 22 वें प्रधानमंत्री हैं और इमरान पिछले 22 वर्षों से राजनीति में सक्रिय हैं। उन्हें पाकिस्तान के राष्ट्रपति ममनून हुसैन ने राष्ट्रपति भवन में एवान-ए-सद्र मे आयोजित एक सादे समारोह में शपथ दिलाई। इमरान खान पाकिस्तान-तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के नेता हैं। इस समारोह में भारत से पूर्व क्रिकेटर व पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्ध भी शामिल हुए। वहां उन्होंने पाकिस्तानी सेना के प्रमुख जनरल कमर जावेद जाजवा से गले मिले। इसको लेकर विवाद गहराता दिख रहा है।

    Read more ...
  • अमेरिका ने आईएमएफ को दिया संकेत कि पाकिस्तान को डॉलर में कर्ज न दें

    (टाइम्स ख़बर)। पूर्व क्रिकेटर और पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ़ पार्टी के नेता इमरान खान पाकिस्तान के नये प्रधानमंत्री होंगे। और 11 अगस्त को शपथ लेंगे। लेकिन इस बीच खबर है कि पाकिस्तान को आर्थिक मदद की जरूरत है और इसके लिये पाकिस्तान को इंटरनेशनल मॉनेटरी फंड यानी आईएमएफ के शरण में जाना होगा। इससे पहले पाकिस्तान 12 बार आईएमएफ के शरण में जा चुका है। लेकिन इस बार आईएमएफ से पाकिस्तान को मदद मिलना आसान नहीं होगा। क्योंकि अमेरिका ऐसा नहीं चाहता।

    Read more ...
  • पाकिस्तान : एक दूसरे पर आरोप लगाने से आगे नहीं बढ सकते - इमरान खान।

    पूर्व क्रिकेटर और पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के प्रमुख इमरान खान ने कहा है कि क्षेत्र की खुशहाली के लिए जरूरी है कि भारत और पाकिस्तान के बीच दोस्ती हो। अगर हम क्षेत्र में गरीबी कम करना चाहते हैं तो हमें एक दूसरे से संबंध बेहतर करने होंगे। इमरान गरीबी दूर करने के लिये चीन की नीति को अपनायेंगे। उनसे सिखेंगे। उन्होंने भारत का उल्लेख करने से पहले इमरान ने चीन, अफगानिस्तान, ईरान और सऊदी का उल्लेख किया। चुनाव प्रचार के दौरान भारत के खिलाफ आग उगलने वाले इमरान खान के चुनाव बाद सावधानी पूर्वक बयान देने की कोशिश की। उन्होंने कश्मीर का उल्लेख करते हुआ कहा कि मसले का हल बातचीत से किया जा सकता है। एक दूसरे पर आरोप लगाने से आगे नहीं बढ सकते।

    Read more ...
  •     
City4Net
Political