मुख्यमंत्री गहलोत ने आमिर को भ्रूण हत्या मामले में फास्ट ट्रैक कोर्ट का भरोस दिलाया

मुख्यमंत्री गहलोत ने आमिर को भ्रूण हत्या मामले में फास्ट ट्रैक कोर्ट का भरोस दिलाया

स्टार इंडिया के सीईओ उदय शंकर और फिल्म स्टार आमिर खान के नेतृत्व में बने ‘सत्यमेव जयते’ ने पूरे देश में धूम मचा दिया है। कन्या भ्रूण हत्या पर आमिर के एपिसोड ने जनमानस को झकझोर दिया। लोगों के मन में अब बेटियों के प्रति जो नकारात्मक धारणा थी उसमें बदलाव की बात होने लगी है। चाहे गरीबों की झोपड़ी हो या शिर्ष पर बैठी सरकार । सभी सक्रिय हो उठे हैं। इसी सिलसिले में भारत सरकार ने जहां आमिर खान को धन्यवाद दिया है वहीं राजस्थान के मुख्यमंत्री ने आमिर से मुलाकात की और साझा प्रेस कांफ्रेंस में आमिर की मांग को मानते हुए कहा कि वे फास्ट ट्रेक कोर्ट बनाने के लिये मुख्य न्यायाधीश से बात करेंगे।

करोड़ो बेटियों को जन्म से पहले हीं गर्भ में मार दिया जाता है। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि आमिर ने फिल्म को छोड़ ऐसे मुद्दे उठाये। इसके लिये मैं उनका शुक्रगुजार हूं। साथ हीं स्टिंग औपरेशन करने वाले पत्रकारों भी उन्होंने साहसी बताया । मुख्यमंत्री गहलोत और आमिर के बीच लगभग 40 मिनट तक बातचीत हुई।

इस विषय पर समय समय पर समाचार आते रहे हैं लेकिन आमिर खान ने जिस प्रकार से इस मुद्दे को उठाया उससे बेटियों के प्रति प्यार उमड़ता दिख रहा है।

गौरतलब है कि यह कार्यक्रम बीते रविवार को सुबह ग्याहर बजे प्रसारित किया गया। इस तरह के कार्यक्रम को बनाने के पीछे फिल्म स्टार आमिर खान के अलावा स्टार इंडिया के सीईओ उदय शंकर का उल्लेखनीय योगदान रहा। इतना हीं उदय शंकर देश के ऐसे पहले चैनल हेड हैं जिन्होंने अपने सुपर हीट कार्यक्रम को ठीक उसी समय दूरदर्शन पर दिखाने के लिये राजी हुए। इस पीछे उनका मकसद देश के लोगों को जागरूक करना है।

स्टार इंडिया के सीईओ उदय शंकर और फिल्म स्टार आमिर खान दोनों का ही मानना है कि हर कुछ पैसा के लिये नहीं किया जाता। समाज और देश के प्रति उनकी जिम्मेदारियां भी होती है।