नरेंद्र मोदी की ऐतिहासिक जीत

नरेंद्र मोदी की ऐतिहासिक जीत

बीजेपी नेता नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में बीजेपी ने ऐतिहासिक जीत हासिल की है लोकसभा चुनाव में। यह भी कह सकते हैं कि यह जीत बीजेपी की नहीं नरेंद्र मोदी की है। ‘अबकी बार मोदी सरकार’, प्रचार का यह सलोगन पूरी तरह सत्य साबित हुई। बीजेपी को अपने दम पर 282 सीटें मिली हैं। जबकि एनडीए को कुल सीटें 335 सीटें मिली है। वही कांग्रेस को ऐतिहासिक हार मिली है। 

16 मई के दिन जैसे-जैसे चुनावी नतीजे आने लगे वैसे-वैसे थोडी देर बाद ही साफ हो गया कि केंद्र में बीजेपी की सरकार होगी। बीजेपी ने 30 साल का रिकॉर्ड तोड़ते हुए बहुमत हासिल कर लिया। वही कांग्रेस पार्टी की ऐतिहासिक हार हो गई। चुनाव में एनडीए को 335 सीटें हासिल हुई जिसमें से बीजेपी को 282 सीटें मिली जो कि बहुमत से अधिक है। जबकि बहुमत के लिये 272 सीटें चाहिये। 

इस जीत के लिये बीजेपी नेता नरेंद्र मोदी ने खुद ही बहुत मेहनत की। चुनाव प्रचार पूरी तरह थमने के बाद  बीजेपी ने दावा किया है कि उनके प्रधानमंत्री पद उम्मीदवार नरेंद्र मोदी ने अब तक देशभर में तीन लाख किलोमीटर से अधिक दूरी तय कर एक तरह का रिकॉर्ड बनाया है और 5827 कार्यक्रमों में भाग भी लिया है। बीजेपी ने इसे भारत के चुनावी इतिहास का सबसे बड़ा जनसंपर्क बताया है जिसमें मोदी पिछले साल 15 सितंबर से 25 राज्यों में 437 जनसभाओं को संबोधित कर चुके हैं और 1350 3 डी रैलियों में भाग ले चुके हैं। मोदी के सार्वजनिक कार्यक्रमों की कुल संख्या 5827 बताई गई है जिसमें उनके 4000 'चाय पे चर्चा' कार्यक्रम भी शामिल हैं। इनमें मोदी ने देश के अनेक शहरों की जनता से वीडियो लिंक के माध्यम से चर्चा की। इसके अलावा मोदी के दो बड़े रोडशो भी गिने जा सकते हैं जो उन्होंने वड़ोदरा और वाराणसी में किये। 

बहरहाल आईये एक नजर डालते हैं कि किस पार्टी को कितनी सीटें मिली – 

बीजेपी – 282, कांग्रेस – 44, एआईएडीएमके – 37, ऑल इंडिया तृणमूल कांग्रेस – 34, बीजू जनता दल – 20, शिवसेना – 18, तेलगू देशम 16,  टीआरएस – 11,  सीपीएम – 9, वायएसआर कांग्रेस पार्टी – 9,   एनसीपी – 6, एलजेपी – 6, समाजवादी पार्टी – 5,  आम आदमी पार्टी – 4, आरजेडी – 4, शिरोमणि अकाली दल – 4,  ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट – 3, पीडीपी – 3, राष्ट्रीय लोक समता पार्टी – 3,  जेडीयू – 2, जेडीएस – 2, आईएनएलडी – 2, इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग – 2, जेएमएम – 2, अपना दल – 2,  सीपीआई – 1  ऑल इंडिया एन आर कांग्रेस – 1, केरल कांग्रेस (एम) – 1, नागा पिपुल्स फ्रंट – 1, नेशनल पिपुल्स पार्टी – 1, पीएमके – 1, आरएसपी – 1, सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट – 1, ऑल इंडिया मजलिस एत्तेहादुल मुस्लिम – 1, स्वाभिमानी पक्ष – 1,  निर्दलीय – 3.